खुद से प्यार करें,दुनिया जीत लेंगे


आज
हम अपना बहुत सारा समय सिर्फ ये सोचने में गंवा देते हैं कि दूसरे हमसे प्यार क्यों नहीं करते। हम इस उम्मीद पर रहते हैं कि और लोग हमसे प्यार करें। लेकिन क्या हम कभी ये सोचते हैं कि हम खुद से प्यार करते हैं या नहीं। जो इंसान खुद से प्यार करता है पूरी दुनिया उससे प्यार करती है। जिस प्यार और अपनेपन की तलाश हम बाहर करते हैं वह सबसे पहले खुद से करिए। ये बहुत गहराई से सोचने वाली बात है। सेल्फ लव के बारे में आज के दौर में बहुत सारे लोग नहीं जानते। खुद से प्यार करना क्या होता है। इससे हमारे जीवन में कैसे बदलाव आता है। जिंदगी में आगे बढ़ने और एक अच्छा मुकाम हासिल करने के लिए खुद से प्रेम करना जरूरी है। हमारे सवाल अक्सर ऐसे होते हैं कि कोई और हमसे प्यार क्यों नहीं करता लेकिन क्या हम सोचते है कि हम खुद से प्यार करते है भी या नहीं। खुद से प्यार करने का मतलब ये नहीं होता कि हम सेल्फिश हो जाए। सेल्फ लव का मतलब होता है खुद की परवाह करना,अपने विचारों के प्रति अवेयर होना।ऐसा करने से हम खुद को जानने लगते हैं। जब हम खुद से प्यार करने लगते हैं तब पूरी दुनिया हमसे प्यार करने लग जाती है। हम बहुत सारी बातों पर ध्यान देकर खुद से प्यार कर सकते हैं। अपनी बॉडी का ध्यान रखकर, अपने विचारों का ध्यान रखकर। अक्सर हमारे दिमाग में निगेटिव विचार चलते रहते हैं जिससे जिंदगी स्ट्रेसफुल बन जाती है। इसलिए सबकुछ हल्का-फुल्का बना रहे यही कोशिश करनी चाहिए। आज के दौर में खुद से नफरत बहुत बढ़ गई है। किसी से बहस या अनबन हो जाए तो हम अपनी वॉ्टसएप डीपी ही हटा देते हैं। बात यहीं नहीं रुकती रोने धोने वाले मैसेज डाल देते हैं। फेसबुक पर ऐसे निगेटिव पोस्ट करते हैं कि लोग देखकर समझ जाते हैं कि आपकी मन की स्थिति क्या है। अगर आपका किसी के साथ विवाद भी हो जाए तो आप कूल रहने की कोशिश करे,स्टेटस से फोटो हटाएं। ऐसे वक्त में तो आपको और भी अच्छी फोटोज और स्टेटस डालना चाहिए। जिससे आपको अच्छा महसूस हो। खुद की खूबियों को जानने की कोशिश करें, अपनी तुलना दूसरों से करें। एक शांत स्थान पर बैठकर अपनी स्ट्रेन्थ के बारे में सोचें,जिससे आपमें पॉजिटीव एनर्जी का संचार होगा। खुद से प्यार करिए तभी आप खुश रहेंगे। हम अक्सर दूसरों के सामने बेहतर बनकर रहना चाहते हैं लेकिन ऐसा करने से हम खुद के बारे में नहीं सोच पाते। दूसरों को हम कैसे लगते हैं यह उतना जरूरी नहीं है। हम खुद के लिए क्या है ये ज्यादा अहम है। हम जब खुद से प्यार करने लगते हैं तब हमारी जिंदगी एक अलग नजरिए के साथ चलती है। जो सवाल हम औरों से करते हैं वो हमें खुद से करने चाहिए। हम खुद से प्यार क्यों नहीं करते, अपनी परवाह क्यों नहीं करते।


Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.