चेहरे की सुंदरता ही नहीं रोगप्रतिरोधक शक्ति भी बढ़ाती है चारोली

 हम अपने चेहरे की दमक को बरकरार रखने के लिए क्या कुछ नहीं करते। कभी घंटों ब्यूटी पार्लर में समय बर्बाद करते हैं तो कभी महंगी क्रीमें इस्तेमाल करते हैं।लेकिन इसका असर हमें सिर्फ कुछ समय के लिए ही दिखता है। इस पोस्ट में हम आपको एक ऐसा घरेलू नुस्का बताएंगे जिसके उपयोग से हम न केवल चेहरे की सुंदरता बढ़ा सकते है बल्कि यह मधुमेह को नियंत्रित करने में और रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के लिए भी कारगर है।  मिठाई हलवा और खीर में मेवे के रूप में उपयोग में लायी जानेवाली चारोली के बारे में तो आप सभी जानते होंगे। अपने स्वास्थ्य वर्धक गुणों के लिए जानी जानेवाली यह चारोली सिर्फ चेहरे पर चमक ही नहीं लाती। शारीरिक कमजोरी को भी दूर करने का काम करती हैं।  चेहरे को रंगत को निखारने, पिंपल्स की समस्या को दूर करने और अन्य स्किन प्रॉब्लम्स को दूर करने के लिए चारोली बेहद कारगर है। चारोली को पीसकर उसे दूध में मिलाकर पेस्ट बनाए और चेहरे पर लगाए़ं। चारोली का पेस्ट चेहरे पर लगाए और 15 मिनट लगा रहने दे।जिससे चारोली का पेस्ट आपके स्किन में अच्छे से अब्जॉर्ब हो जाए। सूखने के बाद चेहरे को हलके हाथों से रगड़ ले।और ठंडे पानी से धो ले।आपको इसका असर पहली बार से ही समझ में आने लगेगा। चेहरे की रंगत में  निखार आने लगेगा।लेकिन इसे लगाने के तुरंत बाद साबुन या फेस वॉश का इस्तेमाल करें।क्योंकि  साबुन और फेसवॉश में केमिकल होते है।जिससे चारोली लगाने के दो से तीन घंटे बाद ही साबुन या फेसवॉश लगाए। 

चारोली में वो आवश्यक तत्व होते हैं जो हमारी स्किन को हेल्दी बनाते है।इसलिए आप वीक में दो बार इसका इस्तेमाल कर अपनी खूबसूरती में इजाफा कर सकते है। वैसे शुरुआत में आप इसे हर दो दिन में भी इस्तेमाल करे तो अच्छा है। यूं तो चारोली का पेस्ट इस्तेमाल करना बेहतर उपाय है चेहरे के लिए लेकिन इसे पीसकर दूध में मिलाकर पीने के भी गजब के भी गजब के फायदे है।आजकल के प्रदूषणयुक्त वातावरण में हमारे चेहरे की कोमलता और दमक को बरकरार रखना किसी टास्क से कम नहीं है। लेकिन हम इन नुस्खों का इस्तेमाल कर खुद को बहुत अच्छे से पैंपर कर सकते है। दोस्तों चारोली सिर्फ खुबसूरती नहीं बढ़ाती बल्कि यह कई स्वास्थ्य समस्याओं को भी दूर करती है। चारोली में एमिनो अम्ल और ओलिक जैसी प्रॉपर्टीज होती है जो हमारी बॉडी के लिए जरूरी होती है। इसके अलावा विटामिन बी और विटामिन सी भी भरपूर मात्रा में होता है। साथ ही इसका सेवन करने से हमारे शरीर को उर्जा मिलती है। 

कुछ समय पहले हुई एक रिसर्च में पता चला है कि मधुमेह को नियंत्रित में चारोली बेहद असरदार है। इसके साथ ही ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए आप  सीमित मात्रा में इसका सेवन कर सकते है। कई बार जानकारी का अभाव न होने से हम छोटी छोटी बीमारियों या स्वास्थ्य समस्याओं से जूझते रहते हैं या इससे निजात पाने के लिए बहुत सारा पैसा खर्च कर देते हैं। लेकिन चारोली के ये छोटे छोटे दानें हमें इन छोटी छोटी समस्याओं से निजात दिला सकती है। चारोली में ऐसे स्वास्थ्य वर्धक गुण है जो हमारी शारीरिक कमजोरी को दूर सकती है।आज के व्यस्त जीवन में चेहरे को जवां बनाए रखना बेहद मुश्किल होता है। शादीशुदा महिलाओं के लिए नौकरी,घर और बच्चों की देखरेख करने के साथ अपनी त्वचा का ध्यान रखना बड़ा मुश्किल हो जाता है।

 कई बार महिलाएं और युवतियां अच्छा दिखने की चाह में पार्लर में बहुत सारा पैसा व समय बर्बाद करते हैं। इसके बावजूद उन्हें मन मुताबिक रिजल्ट नहीं मिलता। साथ ही आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में इंसान सिर्फ मशीन की तरह काम करने में लगा है। लेकिन हम ये बात भूल गए है कि मशीन का भी ध्यान न रखा जाए तो वह खराब हो जाती है। इसलिए अपने बिजी शेड्यूल में से सिर्फ कुछ समय निकालकर आप बारिक सी दिखनेवाली चारोली का इस्तेमाल कर खुद को जवां बनाए रखने के साथ शारीरिक तौर पर मजबूत बन सकते है। 


Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.